Machine Learning क्या है – What Is Machine Learning In Hindi

What Is Machine Learning – Janiye Kya Hoti Hai Machine Learning (ML) – आज Scince ओर Technology ने बहुत ज्यादा विकास कर लिया है। टेक्नोलॉजी दिन प्रतिदिन काफी तेजी से बढ़ती जा रही है और नए नए विकास होते जा रहे हैं। कुछ सालों पहले जो असम्भव लगता था, वो आज सम्भव हो गया है। आज ऐसी बहुत सी नई नई मशीनों का आविष्कार हो चुका है जो हर तरह से इंसानो की मदद करने में सक्षम हैं।

आज का युग आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (Artificial Intelligence) का है। हमनें पिछली पोस्ट में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के बारे में विस्तार से जाना भी था कि ये क्या होता है और इसके क्या फायदे ओर नुकसान हैं।

Artificial Intelligence क्या है और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के फायदे ओर नुकसान

लेकिन आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस के साथ या इसकी वजह से एक ओर शब्द या टेक्नोलॉजी सामने आई है जिसका नाम है Machine Learning. अगर आप Technology में रुचि रखते हैं तो सम्भव है कि आपने Machine Learning के बारे में तो सुना ही होगा.? अगर आप मशीन लर्निंग के बारे में पूरी तरह से नहीं जानते हैं तो आज की इस पोस्ट में हम इसी विषय पर चर्चा करने वाले हैं।

आखिर क्या है Machine Learning.? क्या Artificial intelligence ओर Machine Learning दोनों अलग अलग हैं.? क्या काम आती है मशीन लर्निंग टेक्नोलॉजी.? ओर भी ऐसे बहुत से सवाल आपके दिमाग में machine learning को लेकर चल रहे होंगे..! आज की इस पोस्ट में हम इस विषय (Machine Learning) पर चर्चा करेंगे और मशीन लर्निंग से सम्बंधित आपके सभी सवालों के जवाब देने की कोशिश करेंगे।

तो चलिए दोस्तों शुरू करते हैं और जानते हैं कि Machine Learning क्या है, मशीन लर्निंग के क्या क्या उदाहरण हैं, Machine Learning Technology के विकास के क्या फायदे हो सकते हैं ओर यह Artificial Intelligence से क्यों अलग है..?

Machine Learning क्या है – What Is Machine Learning In Hindi

machine learning in hindi

क्या है Machine Learning

मशीन लर्निंग का सीधा मतलब है मशीनों या कंप्यूटर को सिखाना, जिससे वो इंसानो की तरह ही इंसानों से बात कर सकें। इसमें ऐसी प्रोग्रामिंग सेट की जाती है जिससे कंप्यूटर इंसानो की तरह ही जवाब दे सके या समझ सके। Machine Learning आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस का ही एक हिस्सा या एप्पलीकेशन है जो सिस्टम को अपने आप सीखने और अपने आप को उस हिसाब से बदलने के लिए डिज़ाइन किया जाता है। यह प्रोग्रामर्स द्वारा कॉडिंग किये बिना ही सिस्टम को अपने आप प्रोग्राम को पढ़ना सीखा सकती है।

मशीन लर्निंग डेटा माइनिंग और बायेसियन प्रेडिक्टिव मॉडलिंग से संबंधित है। मशीन लर्निंग कुछ उदाहरणों को लेकर उनके पैटर्न को समझता है अौर फिर उस पैटर्न का इस्तेमाल करके नए उदाहरणों के बारे में पहले से अनुमान लगाता है। इसमें हमारे द्वारा किसी मशीन या कंप्यूटर सिस्टम को अनुभव के आधार पर चीजों की जानकारी दी जाती है।

ml machine learning

अगर परिभाषित रूप में समझें तो Machine Learning का मतलब ये है – मशीन लर्निंग एल्गोरिद्म तथा आंकड़ों के मॉडल का एक वैज्ञानिक अध्ययन है जिसका इस्तेमाल किसी कंप्यूटर सिस्टम को स्पष्ट निर्देश दिए बिना किसी विशेष टास्क को करने के लिए होता है। इस प्रक्रिया में मशीन पैटर्न तथा इंटरफेस का इस्तेमाल होता है।

Machine Learning के उदाहरण (Examples) –

मशीन लर्निंग टेक्नोलॉजी आजकल बहुत से ऑनलाइन प्लेटफॉर्म्स पर देखने को मिल जाती है। आप मशीन लर्निंग टेक्नोलॉजी को आज इस्तेमाल भी कर रहे ओर यह आपकी ज़िंदगी का हिस्सा भी बन गई है। अगर आप अभी भी नहीं जानते हैं तो में आपको machine learning के कुछ उदाहरण देता हूँ –

अगर आप youtube देखते हैं और हर बार अलग अलग कैटेगरी के वीडियो देख रहें हैं, जैसे – Comedy Video, News, Sports Video व Kids Videos इत्यादि, तो यूट्यूब खोलने पर आपको इन सभी कैटेगरी के वीडियो आपके सामने आएंगे। लेकिन अगर आपने अचानक से Youtube पर कोई Horror video देखना शुरू कर दिया और आप youtube पर एक या दो दिन तक लगातार horror video ही देखते हैं तो फिर यूट्यूब आपके सामने youtube खोलने पर Horror videos ही ज्यादा दिखाएगा, News, comedy या Music video नहीं दिखाएगा या कम दिखाएगा।

इसका सीधा मतलब है कि Youtube में मशीन लर्निंग प्रोग्राम सेट किया गया है। उसने अब इस चीज़ को समझ लिया है कि आपको अब News या Kids वीडियो में रुचि नहीं रही। आपकी रूचि अब ज्यादा horror video में है और आप हॉरर वीडियो ही देख रहे हैं तो अब वह आपको हॉरर वीडियो ही रिकमेंड कर करेगा। अब यह जान जाएगा कि आपको YouTube पर आपको कौन से वीडियो सुझाने चाहिए।

इसके अलावा मशीन लर्निंग के कुछ और examples भी हैं, जैसे –

  • Google, Youtube इत्यादि में मिलने वाला Voice search का फ़ीचर। इसमें मशीन आपकी आवाज को समझकर आपके सामने आपका नतीजा रख देती है। अब आपको लिखने की जरूरत नहीं है।
  • Google Translate भी मशीन लर्निंग का ही एक उदाहरण है। अगर आपको इंग्लिश नहीं आती है तो आप हिंदी में लिखकर उसको इंग्लिश में ट्रांसलेट कर सकते हैं। इसमें मशीन हिंदी भी समझती है और इंग्लिश भी। इसलिए वह आपको हिंदी से इंग्लिश बनाकर देती है। आप Google अनुवाद से तकरीबन कुछ भी बोल सकते हैं और मशीन लर्निंग के ज़रिए काम करने वाली स्पीच रेकॉगनिशन यानी बोली को पहचानने वाली तकनीक अपना काम शुरू कर देगी।

– एक ओर अलग उदाहरण भी लेते हैं। आपने 50 फ़ोटो इकट्ठे किये। इनमें से 49 फ़ोटो कुत्ते के ओर 1 फ़ोटो बिल्ली का है। अब आप कंप्यूटर को इनमें से बिल्ली वाली फ़ोटो छांटने को कहेंगे तो वह इतनी सारी फ़ोटो में से बिल्ली वाली फ़ोटो को आसानी से छांट लेगा। यह मशीन लर्निग है और अल्गोरिथम की मदद से सम्भव है। अल्गोरिदम्स के मध्यम से मशीन को कुत्ते ओर बिल्ली को पहचानने में सक्षम बनाया जाता है।

  • Machine Learning का सबसे अच्छा व सही उदाहरण Personal Assistant है। आप Google Assistant को भी ले सकते हैं। आजकल सभी स्मार्टफोन्स में Google Assistant का फीचर मिलता है। इसकी मदद से आप किसी भी सवाल का जवाब पा सकते हैं या अपने पर्सनल अस्सिस्टेंट के रूप में काम ले सकते हैं।

For Example – अगर आप Google assistant में ये कहेंगे कि भारत का प्रधानमंत्री कौन है तो आपका अस्सिस्टेंट इसका जवाब नरेंद्र मोदी देगा।

  • अगर आपने Smart Home टेक्नोलॉजी के बारे में सुना है तो वह भी मशीन लर्निंग या ML का ही एक उदाहरण है।

तो ये सब मशीन लर्निंग के ही उदाहरण हैं। मशीन लर्निंग में मशीनें आपकी आवाज को समझकर उसका जवाब ढूंढने में सक्षम हैं, क्योंकि उनमें ऐसे अल्गोरिथम सेट किए हुए होते हैं।

क्या Machine Learning व Artificial Intelligence एक हैं –

मशीन लर्निंग प्रणाली Artificial intelligence (AI) पर आधारित है। यानी Artificial intelligence जिसे कभी-कभी मशीन इंटेलिजेंस भी कहा जाता है। लेकिन इसका मतलब ये नही है कि Machine Learning व Artificial intelligence एक ही होता है।

अगर आपको आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के बारे में पूरी तरह से जानना है तो मैंने आपको पिछली पोस्ट में AI के बारे में विस्तार से बताया भी था। वो पोस्ट आप यहाँ से पढ़ सकते हैं Click Here अगर आपको मशीन लर्निग व आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में अंतर को आसानी से समझना है तो पहले इस पोस्ट को पढें।

मशीन लर्निंग आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस की एक एप्पलीकेशन या अल्गोरिदम है जिससे सिस्टम अपने आप learn करने व अपने आप को improve करने में सक्षम बन सके। दोनों के कॉन्सेप्ट ओर कार्य अलग अलग होते हैं। आर्टिफिशियल इंटेलोजेंसि मशीन लर्निंग की तुलना में शक्तिशाली होता है।

Machine Learning Algorithms ke types

Machine learning algorithms को अक्सर कुछ category में बांटा जाता है। चलिए इसके विषय में और उनके types के बारे में जानते हैं –

  • Supervised machine learning algorithms
  • Unsupervised machine learning algorithms
  • Semi-supervised machine learning algorithms
  • Reinforcement machine learning algorithms

Traditional Programming क्या है –

अब मशीन लर्निग अल्गोरिथेम्स के बारे में जानने के बाद आपके मन में एक ओर सवाल उठ रहा होगा कि Traditional Programming क्या है? क्या ट्रेडिशनल प्रोग्रामिंग ही मशीन लर्निग है। तो आइए समझते हैं –

Traditional Programming – ट्रेडिशनल प्रोग्रामिंग एक मैनुअल प्रॉसेस होती है जिसको कोई इंसान या एक प्रोग्रामर बनाता है उसको तैयार करता है। इसमें सभी तरह के programs या data को एक प्रोग्रामर कॉडिंग के द्वारा तैयार करता है और वह उस कॉडिंग या प्रोग्राम तक ही सीमित रहता है, उसमें डाला जाता है।

Machine Learning – मशीन लर्निंग टट्रेडिशनल प्रोग्रामिंग से अलग होता है। इसमें अल्गोरिथेम्स अपने आप Data बनाता है। इसके किसी भी प्रोग्राम को एक प्रोग्रामर द्वारा तैयार नहीं किया जाता है। इसमें अल्गोरिथेम्स बनाये जाते हैं और फिर वो अपने आप अपने आस पास के माहौल को देखकर सीखते हैं और प्रोग्राम बनाते रहते हैं। मतलब Machine Learning व Traditional programming दोनों एक दूसरे से एकदम अलग होते हैं।

 

Deep Learning क्या है

डीप लर्निंग (deep learning) मशीन लर्निंग का ही उप क्षेत्र और आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस का एक पहलु है।Deep Learning मशीन लर्निंग तकनीक में से एक है जिसके द्वारा हम कंप्यूटरों को सिखाते हैं कि मनुष्य क्या कर रहे हैं। यह एक बड़ा बहु स्तरित तंत्रिका नेटवर्क मॉडल है जिसके लिए बहुत सारे डेटा और शक्तिशाली GPU को प्रशिक्षित करने की आवश्यकता होती है।

मशीन लर्निंग से ये कुछ अलग है, अक्सर लोग इसमें और मशीन लर्निंग में कन्फूज हो जाते हैं। डीप लर्निंग एक अनुक्रमित एल्गोरिथम का इस्तेमाल करता है वहीँ मशीन लर्निंग लीनियर अल्गोरिथम का इस्तेमाल करती है।

Machine Learning के फायदे –

मशीन लर्निग व डीप लर्निग के बारे में जानने व अच्छी तरह से समझने के बाद अब Machine Learning के कुछ फायदों (Advantages) के बारे में भी जान लेते हैं –

  • Internet And Technology के क्षेत्र में: मशीन लर्निंग का सबसे बड़ा फायदा डिजिटल व ऑनलाइन क्षेत्र में है। Google, Facebook, Youtube इत्यादि बड़ी कंपनियां ML को इस्तेमाल करती हैं और इससे यूज़र्स को सर्चिंग व सर्फिंग में फायदा व सेक्युरिटी दोंनो मिलते हैं व कंपनियां भी इससे काफी फायदा उठाती हैं। Online Community मशीन लर्निग टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल की वजह से दिन प्रतिदिन ओर ज्यादा बेहतर व सुरक्षित होती जा रही हैं।

मशीन लर्निग का इस्तेमाल फेसबुक न्यूज फीड और मोबाइल एप जैसे स्थानो मे हो रहा है। जैसे की आप ऑनलाइन शॉपिंग करते समय वेबसाइट पर विज्ञापन देखते है तो वह सब मशीन लर्निग का कमाल है।

  • Syber Security: आजकल ज्यादातर कार्य ऑनलाइन होते हैं, ऐसे में Syber security की समस्या काफी बढ़ गई है। इसलिए इस क्षेत्र में सुरक्षा हेतु मशीन लर्निग किसी क्रांति से कम नहीं है। Machine learning की मदद से सायबर सिक्योरिटी बढ़ेगी और इस क्षेत्र में काफी सुधार होगा।
  • Industrial Work में मददगार: यह टेक्नोलॉजी व्यवसाय के क्षेत्र में काफी मददगार साबित हो सकती है। यह बिक्री ओर नुकसान या फायदे की भविष्यवाणी करने में सक्षम हो सकती है। इस क्षेत्र में इसकी मुख्य विशेषताएं ये है – त्वरित अनुसंधान भविष्यवाणी और प्रसंस्करण, अनिश्चित स्रोतों से डेटा उपयोग व ग्राहक व्यवहार की विरासत के आँकड़े व्यक्त करने के साथ सहायता करता है।
  • Medical ओर चिकित्सा के क्षेत्र में: machine learning स्वास्थ्य सेवा उद्योग में शानदार बदलाव ला सकता है, क्योंकि यह निदान करने के अलावा उच्च जोखिम वाले रोगियों को निर्धारित करने की प्रक्रिया में मदद करता है और साथ ही सबसे प्रभावी दवाओं की सलाह देता है।
  • Online And Email Security: machine learning स्पैम फिल्टर सिस्टम को नए protocol का निर्माण करने में सक्षम बनाता है जो ईमेल को खत्म करने के लिए दिमाग जैसे तंत्रिका नेटवर्क को लागू करते हैं जिनकी आवश्यकता नहीं है।
  • Education – मशीन लर्निंग आने के बाद शिक्षा के क्षेत्र में भी काफी सुधार हुआ है। इससे स्टूडेंट्स व टीचर्स दोनों को फायदा मिला है। यह ऑनलाइन सीखने के लिए बहुत ज्यादा मददगार है। आने वाले समय मे मशीन लर्निग का विकास इस क्षेत्र में काफी उन्नति कर सकता है।

Machine Learning कैसे सीखें –

तो, अब बात आती है कि मशीन लर्निंग कैसे सीख सकते हैं या मशीन लर्निंग सीखने के लिए कौन कौनसे कोर्स होते हैं। मशीन लर्निंग सीखने के लिए आपके पास बहुत से विकल्प हैं, जिनको आप चुन सकते हैं।

R Language – मशीन लर्निंग सीखने के लिए R सबसे चर्चित प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है। यह मशीन लर्निंग के लिए आप R को चुन सकते हैं।

Paython – ML सीखने के लिए आप र लैंग्वेज के अलावा Python का इस्तेमाल कर सकते हैं। मशीन लर्निंग को सीखने के लिए एक ओपन सोर्स तकनीक की वजह से पायथन R से अधिक लोकप्रिय है। पायथन के लिए बहुत सारे ट्रेनिंग, कोचिंग और पैकेज भी हैं। बहुत सारे इंस्टिट्यूट हैं जो पाइथन सीखा सकते हैं। इसलिए ML के लिए R लैंग्वेज एकमात्र ओपन सोर्स नहीं है। आप python को भी चुन सकते हैं।

TenserFlow.js – TensorFlow.js मशीन लर्निंग मॉडल के प्रशिक्षण और कार्यान्वयन के लिए एक काफी अच्छा ओपन-सोर्स प्लेटफार्म है। इसलिए आप ML सीखने के लिए इसको भी चुन सकते हैं।

इसके अलावा अगर आपको ML सीखनी है और आपको ML के बारे में सभी बेसिक्स पहले से आते हैं, या आप बैसिक Python या R Programming Language जानते हैं तो आप वेब ब्राउजर में ML डेवलप कर सकते हैं। आप मॉडल डेवलपमेंट के लिए API का उपयोग कर सकते हैं या आपके पास पहले से कोई मॉडल उपलब्ध है तो आप उसको डेवलप कर सकते हैं या मैनेज कर सकते हैं। वेब ब्राउज़र पर सबसे उपयुक्त पहले से मौजूद TensorFlow मॉडल करने के लिए TensorFlow.js मॉडल रूपांतरण के साथ काम करें ।

इसके अलावा आप अपने मॉडल पर ऑनलाइन अध्धयन कर सकते हैं। वेब ब्राउज़र या अलग-अलग क्लाइंट-साइड आंकड़ों से जुड़े सेंसर डेटा के साथ काम करने वाले पूर्व-मौजूदा एमएल मॉडल को फिर से लिखें।

मशीन लर्निंग (ML) का भविष्य –

ML का भविष्य काफी सुनहरा होने वाला है। आने वाला समय AI ओर ML का होगा। अभी आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस, मशीन लर्निंग और डीप लर्निंग विकास के दौर में चल रही है तो यह संभावना बहुत ज्यादा है कि भविष्य में इसे और ज्यादा बेहतर बनाने और इस पर ज्यादा खोजें होंगी। इन खोजों के बल पर नई-नई मशीनों का अविष्कार होगा। मशीन लर्निंग के सहारे कई तरह की रोबोटिक्स मशीनें बनेंगी जो दुनिया को बदलने में सक्षम होंगीं।

कंप्यूटर विज्ञान में मशीन लर्निंग अब सबसे लोकप्रिय विषयों में से एक है। डिजिटल, बिग डेटा, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, ऑटोमेशन और मशीन लर्निंग जैसी प्रौद्योगिकियां उत्तरोत्तर काम और नौकरियों के भविष्य को आकार दे रही हैं। कुछ एडवांस्ड देश जैसे चाइना आदि में मशीन लर्निंग का प्रयोग बहुत ज्यादा हो रहा है। वहां रोबोट को ही सेना में सैनिक बनाने और रोबोट को ही रेस्टोरेंट में वेटर बनाने की तैयारी चल रही है। ऐसे में संभावना है कि दुनिया भर में मशीनों का प्रयोग बहुत बढ़ जाएगा और आपको आम जनजीवन में रोबोट काम करते दिखेंगे। जैसा कि आपने टेक्नोलोजी फिक्शन मूवीज में देखा है।

तो यह मानना गलत नहीं है कि आने वाला दौर ही मशीन लर्निंग का है। तो अगर आप मशीन लर्निंग में करियर बनाने या फिर कोई अन्य प्रोजेक्ट करना चाहते हैं तो इससे बेहतर विकल्प कोई और नहीं होगा।

निष्कर्ष (Conclusion) – मशीन लर्निंग क्या है, इसके क्या फायदे हैं और ML को कैसे सिख सकते हैं के बारे में हमनें आपको आज इस पोस्ट में गाइड किया है। यहां आज हमने मशीन लर्निंग के काम और फायदों और इस तकनीक के कुछ उदाहरणों के बारे में चर्चा की है।

इस बात में कोई शक नहीं है कि ML या Machine Learning भविष्य की सबसे बड़ी आवश्यकता है और यह आम लोगों के जीवन व टेक्नोलॉजी का हिस्सा बन जाएगी। ज्यादतर चीजों में आने वाले टाइम में मशीन लर्निंग ही इस्तेमाल होगा और हम उस पर पूरी तरह से निर्भर होंगे। आर्टिफ़िश्यल इंटेलिजेंस इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। अगर आप इस क्षेत्र में जाना चाहते हैं तो यह आपके लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है और यह आपको भविष्य में काफी काम आने वाली है।

तो दोस्तों, ये थी आज की हमारी पोस्ट या पूरी जानकारी मशीन लर्निंग के बारे में। इसमें हमनें आपको ML के बारे में सभी जरूरी जानकारी देने की कोशिस की है।

उम्मीद करता हूँ कि आपको हमारी यह पोस्ट Machine Learning क्या है – What Is Machine Learning (ML) जरूर पसंद आई होगी। अगर आपका मशीन लर्निंग को लेकर अभी भी कोई सवाल है तो हमसे कमेंट बॉक्स में कमेंट के माध्यम से जरूर करें और इस पोस्ट के बारे में अपने सुझाव भी हमसे कमेंट के माध्यम से जरूर साझा करें। इस पोस्ट को social media पर अपने दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर करें ताकि मशीन लर्निंग के बारे में उनकी भी मदद हो सके और जानकारी मिल सके।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here