Artificial Intelligence क्या है और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के फायदे ओर नुकसान

कृत्रिम बुद्धिमत्ता या आर्टिफिशल इंटेलिजेंस क्या है - What is Artificial Intelligence (AI) in Hindi - Technical Guruji

1

Artificial Intelligence (AI) Technology – टेक्नोलॉजी का विकास आज के दौर में बहुत ही तेज़ी से हो रहा है। नई नई टेक्नोलॉजी लाई जा रही है और बहुत से नई टेक्नोलॉजी पर काम किया जा रहा है। आज ऐसी ऐसी टेक्नोलॉजी का विकास हो चुका है जो आज से 10-15 साल पहले नामुमकिन सी लगती थी। जैसे जैसे समय बीतता जा रहा है, दुनिया में बहुत सी नई Technology सामने आ रही हैं जो इंसानों का काम आसान कर सके।

ऐसी ही एक लैटेस्ट टेक्नोलॉजी का विकास किया जा रहा है जिसको Artificial intelligence (AI) के नाम से जाना जाता है। आजकल हर बड़ी कम्पनी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर काम कर रही हैं और काफी हद तक इस टेक्नोलॉजी को विकसित भी कर लिया है। आज हमारे सामने Artificial intelligence (AI) के बहुत से उदाहरण भी हैं और हम उनको इस्तेमाल भी कर रहे हैं।

आज हम जिस दौर में हैं, उसको हम Artificial intelligence Technology का शुरुआती दौर या इसकी पहली स्टेज कह सकते हैं। अभी इसका विकास होना शुरू ही हुआ है, लेकिन आने वाला समय पूरी तरह से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का ही होगा और कुछ ही सालों में यह पूरी तरह से विकसित भी हो जाएगी।

अगर आप भी टेक्नोलॉजी में रूचि रखते हैं या टेक्नोलॉजी को जानते ओर इस्तेमाल करते हैं तो उम्मीद करता हूँ कि आपने आज से पहले आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (Artificial intelligence) के बारे में तो सुना ही होगा। या ऐसा भी हो सकता है कि आपने इसके बारे में सुना तो है, लेकिन इसके बारे में पूरी तरह से नहीं जानते हैं कि Artificial intelligence क्या होता है। इसलिए अगर आप Artificial intelligence के बारे में पूरी तरह से जानना चाहते हैं पूरे विस्तार से, तो आज की ये पोस्ट आपकी काफी ज्यादा मदद करने वाली है आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस टेक्नोलॉजी के बारे में पूरी तरह से जानने और समझने में।

आज की पूरी पोस्ट में हम Artificial intelligence Technology के बारे में ही विस्तारपूर्वक बात करने वाले हैं कि Artificial intelligence क्या है, इसके क्या क्या फायदे ओर नुकसान हैं, Artificial intelligence के आज के दौर में कौन कौनसे उदाहरण हैं और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का भविष्य क्या है। जानने के लिए इस पूरी पोस्ट को अंत तक पढें। तो चलिए दोस्तों, शुरू करते हैं और जानते हैं Artificial intelligence के बारे में हिंदी में

What is Artificial Intelligence | Advantages and Disadvantages (AI) in Hindi

Artificial Intelligence kya hai 2019-20

Artificial Intelligence क्या है

Artificial Intelligence या AI को हिंदी में कृत्रिम बुद्धिमत्ता भी कहा जाता है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कोई इंसानी या जैविक बुद्धि न होकर एक कंप्यूटराइज्ड बुद्धि जो विभिन्न मशीनों द्वारा नई तकनीक को काम में लेकर विकसित की जाती है। यह कंप्यूटर साइंस या कंप्यूटर प्रोग्राम्स की एक ऐसी साखा है, जिसमें एकदम इंसानों की तरह सोचने, कार्य करने और एक्शन करने की क्षमता हो। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस मशीनों का एक ऐसा समूह होता है जिसमें सभी कंप्यूटिंग सिस्टम्स ओर प्रोग्राम एकदम इंसानो की तरह सोचते ओर कार्य करते हैं।

दूसरे शब्दों में समझें तो कृत्रिम तरीके से या कंप्यूटर्स और प्रोग्राम से Intelligence को विकसित करना ही Artificial intelligence है। यह computer science का एक area है, जिसमे मशीनो की intelligence पर काम किया जाता है, जिससे मशीन हम human की तरह काम कर सके और action ले सके।

Artificial Intelligence एक ऐसा सयंत्र या मशीन है जो अपने आसपास के पर्यावरण को देखकर, अपने लक्ष्य को प्राप्त करने की कोशिश करता है ओर उस हिसाब से ही अपने आप को विकसित करता है। ठीक इसी तरह जैसे इंसान करते हैं। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में एक मशीन इंसानों की नकल करती है और इंसानों से ही नए कार्य सीखकर इंसानों की तरह कार्य करने को कोशिस करती है।

दोस्तों, आजकल इंसान सोचने-विश्लेषण करने व याद रखने का काम भी अपने दिमाग के स्थान पर कंप्यूटरीकृत मशीनों से कराना चाहता है। ऐसे में इंसान ऐसे कंप्यूटर्स या मशीनें विकसित करने लगा है, जो इंसानों की मदद कर सकें। ओर इस काम के लिए वैज्ञानिकों ने जो शोध किए ओर जिस तकनीकी का विकास किया है, उसे ही AI – आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (Artificial intelligence) कहा जाता है।

अब उम्मीद करता हूँ कि आपको ये तो समझ में आ गया होगा कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस होता क्या है! चलिए, अब इसके बारे में कुछ और जान लेते हैं व AI – Artificial intelligence के कुछ उदाहरण देखते हैं-

Artificial Intelligence के कुछ उदाहरण (Examples) –

ऐसा नहीं है कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का विकास अभी तक हुआ नहीं है। जैसा कि मैंने आपको बताया था कि आज का समय आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के शुरुआत की पहली पीढ़ी या स्टेज ही है। आज एआई टेक्नोलॉजी का विकास काफी हद तक विकसित हो गया है और हम अपनी ज़िंदगी में इसका इस्तेमाल भी कर रहे हैं।

उदाहरण के तौर पर Google का Voice Assistant आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का ही एक छोटा सा उदाहरण है। इसके अलावा बहुत से कंपनी आजकल रोबोट्स बनाती हैं जो बहुत से स्मार्ट और घरेलू कार्य करने में सक्षम हैं, वो एआई का ही एक उदाहरण हैं। इसके अलावा apple का Siri, Computer या Smartphone के ऑटो गेम्स, सेल्फ़ ड्राइविंग कार ओर Amazon का Echo भी AI के अच्छे उदाहरण हैं।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का भविष्य (Future)

अब बात करें आने वाले समय में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस या AI के भविष्य के बारे में तो आने वाला समय एआई का ही होगा। आने वाले 10 सालों में आर्टिफिशियल टेक्नोलॉजी का विकास काफी हद तक बढ़ जाएगा और दुनियां के हर बड़े सेक्टर में इस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाएगा। आने वाला समय आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस टेक्नोलॉजी से बनी मशीनों व रोबोट्स का होगा।

दोस्तों, अगर आप साइंस फिक्शन फिल्में देखते हैं तो बहुत सी फिल्मों में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को बहुत ही डिटेल्स में दिखाया गया है। हॉलीवुड या बॉलीवुड फिल्मों में दिखाई जाने वाली टेक्नोलॉजी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस ही होती है। हालांकि जो फिल्मों में दिखाया जाता है, वैसी टेक्नोलॉजी आजनके समय मे तो उपलब्ध नहीं है, लेकिन सारी फिल्में भविष्य पर ही दर्शाई जाती हैं और आने वाले आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस AI के युग को ही दिखाते हैं।



उदाहरण की बात करें तो हॉलीवुड फिल्म iron man ओर Avengers में टोनी स्टार्क का जार्विस आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस है। रोबोट फ़िल्म में चिट्टी रोबोट भी एक विकसित आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का ही नमूना है। इसके अलावा Oblivion में क्लोन्स, विदेशी Webshow Another Life में दिखाया गया William नाम का कंप्यूटर, एक tv show में रजनी का कैरेक्टर, टर्मिनेटर फ़िल्म में रोबोट इत्यादि बहुत सी फिल्मों में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को बहुत ही विस्तार से दर्शाया गया है, जो आज तो विकसित नहीं हैं, लेकिन भविष्य में ऐसा होना कोई मुश्किल काम नहीं है।

वैज्ञानिक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस टेक्नोलॉजी पर लगातार अच्छा काम कर रहे हैं और आगे बढ़ रहे हैं व सम्भव है कि आने वाले कुछ सालों में ये टेक्नीक काफी विकसित हो जाएगी और आज की फिल्मों में इससे सम्बंधित दिखाई जाने वाली काल्पनिकता भविष्य में हकीकत होगी।

Artificial intelligence : फायदा या नुकसान

दोस्तों, ऐसा नहीं है कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस टेक्नोलॉजी का पूरी तरह से विकसित होने से हमारे लिए फायदे हो सकते हैं। AI तकनीक के इंसानो के लिए फायदे भी बहुत हैं तो इसके हमारे लिए नुकसान भी बहुत ज्यादा हैं। AI से ऐसी मशीनों का विकास हो जाएगा जो इंसानों की मदद करेंगी और ऐसे काम करेंगी जो इंसान करने में सक्षम नहीं है। वहीं ऐसी मशीनें इंसानों के वजूद को भी खतरा बन सकती हैं या इंसानों के लिए नुकसानदेह भी हो सकती हैं।

यहाँ में आपको आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के फायदे ओर नुकसान के बारे में बता रहा हूँ या आपको इस टेक्नोलॉजी से हमें फायदा होगा या नुकसान, इसमें तुलना करने की कोसिस करता हूँ। तो चलिए शुरू करते हैं और जानते हैं artificial intelligence के फायदे ओर नुकसानों के बारे में :-

artificial intelligence fayda ya nuksaan

कृत्रिम बुद्धिमत्ता या Artificial intelligence के फायदे –

आज के समय में कृत्रिम बुद्धिमत्ता का इस्तेमाल स्वास्थ्य देखभाल, विनिर्माण, खुदरा, खेल, स्पेस स्टेशन, बैंकिंग जैसे हर क्षेत्र में किया जाता है और इसका फायदा भी हो रहा है। जानते हैं इसके कुछ मुख्य फायदे –

  • Medical Sectors में AI का इस्तेमाल बहुत फायदेमंद है। चिकित्सा में विभिन्न प्रकार के एक्सरे रीडिंग करना, आप को समय-समय पर आपके कार्य के बारे में याद दिलाना और अनुसंधान में आपकी मदद करने जैसे कार्य किए जा रहे हैं। इसका बढ़ता विकास आने वाले समय मे चिकित्सा के क्षेत्र में ओर ज्यादा विकास व क्रांति ला सकता है और फायदा कर सकता है।
  • Sports के क्षेत्र में भी कृत्रिम बुद्धि का उपयोग किया जा रहा है और ये बहुत ज्यादा फायदेमंद भी है, जैसे लाइव ब्रॉडकास्ट, फ़ोटो क्लिक व स्ट्रीमिंग ओर रणनीति बनाने में यह महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है और आगे भी इसका विकास इस क्षेत्र में फायदेमंद होगा।
  • वित्तीय संस्थानों और बैंकिंग संस्थानों द्वारा डेटा को व्यवस्थित और प्रबंधित करने के लिए उपयोग किया जाता है। स्मार्टकार्ड सिस्टम में भी “कृत्रिम बुद्धिमत्ता” का इस्तेमाल किया जाता है।
  • आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस विभिन्न स्‍टडीज में प्रयोग किया जाता है जैसे स्‍पेस की खोज। इंटेलिजेंट रोबोट में इनफॉर्मेशन भर दी जाती हैं और अंतरिक्ष को एक्‍सप्‍लोर करने के लिए भेजे जाते है।
  • आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस को माइनिंग और अन्य फ्यूयल एक्सप्लोरेशन प्रोसेस में इस्तेमाल किया जाता है। इतना ही नहीं, इन कॉम्‍प्‍लेक्‍स मशीनों का उपयोग समुद्र के तल की खोज के लिए भी किया जा सकता है क्‍योकि वे मानव कि लिमिटेशन के परे होते है।
  • वित्तीय संस्थानों और बैंकिंग संस्थानों द्वारा डेटा को व्यवस्थित और प्रबंधित करने के लिए उपयोग किया जाता है। स्मार्टकार्ड सिस्टम में भी “कृत्रिम बुद्धिमत्ता” का इस्तेमाल किया जाता है।
  • कृषि के क्षेत्र में भी कृत्रिम बुद्धिमत्ता का उपयोग बहुत फायदेमंद है। यह खेती में उपज ओर बचत दोनों में फायदेमंद है। इससे खेती में कम मेहनत और खर्च से ज्यादा फायदा उठा सकते हैं। यह किसानों के लिए वरदान साबित हो सकती है।

इन सबके अलावा भी ऐसे बहुत से फायदे हैं, जो हमारी ज़िंदगी बदल सकते हैं। आने वाले समय में हर क्षेत्र में यह इंसानों से ज्यादा कार्य करने में सक्षम होगा। अगर भविष्य में इसका विकास और ज्यादा होता है और इसको ओर ज्यादा सक्षम बनाया जाता है तो इससे बहुत ज्यादा फायदा है।

कृत्रिम बुद्धिमत्ता (Artificial intelligence) के नुकसान –

ऐसा नहीं है कि AI तकनीक का इस्तेमाल इंसानों के लिए फायदेमंद ही होगा। अगर इसका विकास हद से ज्यादा हो गया तो यह हमारे लिए एक अभिशाप भी बन सकती है और इंसानों के वजूद को इससे खतरा भी हो सकता है। जानते हैं आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस तकनीक के कुछ मुख्य नुकसानों के बारे में –


  • आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का सबसे बड़ा नुकसान ये हो सकता है कि इससे बेरोजगारी बढ़ेगी। मशीनों के विकास के बाद ज्यादातर काम मशीनों या रोबोट्स से ही करवाया जाएगा। इससे हर क्षेत्र में इंसानो के काम की जरूरत कम हो जाएगी और बेरोजगारी में बढ़ोतरी होगी।
  • आने वाले समय की मशीनें या रोबॉट अपने आप को विकसित करने और खुद खतरनाक हथियार बनाने में सक्षम होंगे। ऐसे हथियारों से मानव जाति हो खतरा हो सकता है। रोबोट्स भी इंसानों के लिए एक खतरा बन सकते हैं।
  • कृत्रिम बुद्धि मशीनों में सही गलत को सोचने और इंसान की तरह उनमें फीलिंग्स नहीं होती हैं। ये ऐसे काम कर सकती हैं जो गलत होते हैं। for example – खतरा महसूस होने पर किसी व्यक्ति की हत्या।
  • आतंकवाद जैसे कार्यों में मशीनों का इस्तेमाल बहुत ज्यादा खतरनाक साबित हो सकता है और इससे बहुत ज्यादा तबाही हो सकती है।
  • युद्ध मे भी इसका गलत इस्तेमाल किया जा सकता है और सभी देशों को इसका काफी ज्यादा नुकसान उठाना पड़ सकता है।
  • इसके अलावा शिक्षा में बढ़ते इसके उपयोग से ये भी सम्भव है कि आने वाले समय मे स्कूल व कॉलेज इत्यादि इसकी वजह से बंद हो जाये। क्योंकि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मदद से सारी पढाई ऑनलाइन व मशीनों की मदद से होनी शुरू हो जाएगी। ये नौकरियों में कमी लाएगी।

इन सबके अलावा भी ऐसे बहुत से नुकसान हैं जो हमें आने वाले समय में उठाने पड़ सकते हैं। हालांकि अभी इसके नुकसान नहीं है, फायदे ही है लेकिन आने वाले समय में जब इसका विकास अपने चरम सीमा पर होगा, तो इससे हमें नुकसान हो सकते हैं और ये पूर्णतः सम्भव है। यह तकनीक हमारे लिए वरदान के साथ साथ अभिसाप भी है।

artificial intelligence ai machine image

Artificial Intelligence Vs Machine Learning –

अब अगर आपने AI के बारे में सुना है तो मशीन लर्निंग के बारे में भी सुना होगा व आपके दिमाग में ये सवाल भी आ रहा होगा कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस वैज्ञानिकों द्वारा बनाया गया एक कृत्रिम ज्ञान या इंटेलिजेंस है तो फिर मशीन लर्निंग क्या होता है? क्या मशीन लर्निंग व आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एक ही नहीं?

जी नहीं, machine learning ओर Aritficial intelligence में फर्क होता है, ये दोनों एक ही तरह की तकनीक नहीं होती है। दोनों का विकास और कार्य भी अलग होता है और इसकी रचना भी अलग होती है। हालांकि दोनों हिनक तरह का कृत्रिम ज्ञान या बुद्धि ही होते हैं, लेकिन फिर भी दोनों में बहुत ज्यादा फर्क होता है।

आज इस पोस्ट में मैं आपको मशीन लर्निंग के बारे में नहीं बता पाऊँगा की ये क्या होती है और A.I. तकनीक M.L. से क्यों अलग है। अगली पोस्ट में मैं आपको Machine learningDeep Learning के बारे में विस्तार से बताऊँगा कि ये क्या होती हैं और A.I. से ये अलग क्यों होती हैं व इसका इस्तेमाल क्या व कहाँ कहाँ पर किया जाता है। जानकारी के लिए आप हमारी वेबसाइट को फॉलो करते रहें।

फिलहाल आपके लिए हमारी कुछ अन्य महत्वपूर्ण मददगार पोस्ट्स हैं, जो टेक्नोलॉजी के बारे में काफी कुछ जानने में मदद करेंगी। इन पोस्ट्स को भी अवश्य पढ़ें –

आज की इस पोस्ट में इतना ही। उम्मीद करता हूँ कि आपको आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस या कृत्रिम बुद्धिमत्ता के बारे में हमारी यह जानकारी जरूर पसंद आई होगी और इससे आपकी काफी हद तक मदद हुई होगी। अगर आपको जानकारी अच्छी लगी तो इस पोस्ट को नीचे दिए गए Share buttons पर क्लिक करके अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर अवश्य शेयर करें, साथ ही अगर आपका इस पोस्ट से सम्बंधित कोई भी सुझाव या कोई सवाल हो तो सबसे नही दिए गए comment box में अपना सवाल या सुझाव हमारे साथ जरूर शेयर करें। धन्यवाद, जय हिंद, वन्दे मातरम!

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

1 Comment
  1. Global point says

    nice

Leave A Reply

Your email address will not be published.