Blog Kya Hai or Blogging Kaise Kare - Technical Guruji

Share This To.


Welcome to Technical Guruji

आजकल ब्लॉगिंग दुनिया के सामने अपनी सोच और अपनी जानकारी रखने का एक सबसे बेहतर ऑनलाइन साधन बन गया है। बहुत से लोग अपना ब्लॉग बनाकर अपनी जानकारी ब्लॉग के माध्यम से लोगों तक पंहुचा रहे हैं और ब्लॉगिंग के माध्यम से पॉपुलर होकर दुनिया के सामने अपनी अलग पहचान बनने की कोशिस कर रहे हैं ।

यद्यपि ब्लॉगिंग आजकल एक बहुत ही प्रसिद्ध श्ाब्द बन गया और ज्यादातर इंटरनेट यूज़र्स ब्लॉगिंग के बारे में जानते हैं, लेकिन फिर भी कुछ लोग हैं जो ब्लॉगिंग के बारे में नही जानते या इसके बारे में अभी भी जानने की कोशिस कर रहे हैं।


इसलिए,

आज की मेरी यह पूरी पोस्ट ब्लॉगिंग और ब्लॉग के बारे में है, ताकि इसके बारे में न जानने वाले या जानना चाहने वालों की मदद ही सके।

आज इस पोस्ट में हम जानेंगे ब्लॉगिंग क्या हैं, ब्लॉगिंग कैसे करें और ब्लॉगिंग से हमें क्या क्या फायदे हो सकते । इसलिए ब्लॉगिंग के बारे में जानना चाहने वाले इस पूरी पोस्ट को पढ़े और ब्लॉग व ब्लॉगिंग के बारे में समझे |


✔ तो चलिए दोस्तों, जानते हैं की ब्लॉग क्या है और ब्लॉगिंग से हमें क्या क्या फायदे हो सकते हैं :-






⏩ 1) ब्लॉग (Blog) क्या हैं :-






ब्लॉग एक ऐसा माध्यम हैं, जिसकी मदद से हम अपनी किसी भी तरह की बातें या जानकारी लोगों तक अपनी भाषा में पंहुचा सकते हैं। यह सोशल मीडिया के तक अपनी जानकारियां रखने का ऑनलाइन साधन हैं


सिंपल सब्दों में समझें तो ब्लॉग एक तरह से वेबसाइट होती, जिसपर हम कुछ भी लिख या डालकर लोगों तक पहुँचाया जा सकता हैं। यह वेबसाइट का एक छोटा रूप भी कहा जा सकता है।


⏩ 2) ब्लॉगिंग (Blogging) क्या हैं :-






ब्लॉग को मेन्टेन करना, उसको सेटअप करना, रैगुलर अपडेट करना और नई जानकारियां डालना ब्लॉगिंग हैं। ब्लॉगिंग सब्द ब्लॉग के साथ ही जुड़ा हुआ होता, जिसका ब्लॉग के बिना कोई मतलब नही होता।

दूसरे सब्दों में कहा जाये तो ब्लॉग पर की जाने वाली किसी भी तरह की एक्टिविटी(Activity) ही ब्लॉगिंग कहलाती हैं।





⏩ 3) ब्लॉगर (Blogger) कौन होता हैं :-



ब्लॉग में किसी भी तरह की एक्टिविटी करने वाला ब्लॉगर कहलाता है।

ब्लॉग को बनाने वाला, डिज़ाइन और सेटअप करने वाला, या ब्लॉग पर पोस्ट लिखने वाला और उसको अपडेट करने वाला ही ब्लॉगर होता हैं।

For Example :- मेरा एक ब्लॉग है, तो में एक ब्लॉगर हुआ , और अगर में ब्लॉग पोस्ट लिख रहा हूँ और इसको मेन्टेन कर रहा हूँ, तो यह ब्लॉगिंग कहलायेगी और में ब्लॉगर ।

⏩ 4) ब्लॉग (Blog) कैसे बनाएं :-



अपना लहद का ब्लॉग बनाना कोई मुश्किल काम नहीं है। हर कोई जो इंटरनेट की अच्छी जानकारी रखता है, और कंप्यूटर की भी जानकारी रखता है, वो आसानी से अपना ब्लॉग बना सकता है।

ब्लॉग बनाने के लिये आपको एक अच्छा ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म चुनना जरुरी होता है।

आप ब्लॉग फ्री और पैसे देकर बना सकते हैं।

अगर आप फ्री में ब्लॉग बनाना चाहते हैं, तो आपके लिए ये कुछ अच्छे ब्लॉग प्लेटफॉर्म हैं :-

Blogger.com

Wordpress.com

Tumblr

आप यहाँ से फ्री में अपना ब्लॉग बना सकते है।

अगर आप फ्री में ब्लॉग बनाना चाहते हैं तो आपको Blogger.com को चुनने को कहूँगा और अगर आप पैसे देकर ब्लॉग बनाना चाहते हैं तो Wordpress सबसे बेहतर रहेगा। ( Wordpress पर फ्री और पैसे में दोनों तरह से ब्लॉग बना सकते हैं।

पैसे में ब्लॉग बनाने के लिए आपको डोमेन नाम (domain name) और होस्टिंग (Hosting) लेने की जरुरत होती है।


इन प्लेटफार्म में से कोई चुन कर आप कुछ स्टेप्स (steps) में अपना ब्लॉग स्टार्ट कर सकते हैं, सिर्फ 5 मिनट में अपना ब्लॉग स्टार्ट करें।


⏩ ब्लॉग बनाने के लिए क्या क्या चाईये :-






ब्लॉग बनाने के लिए आपके पास अपनी एक ईमेल आईडी (Email Id) होना जरुरी होता है। ईमेल आईडी Gmail.com से बानी होनी चाहिय।

इसके अलावा कंप्यूटर, इंटरनेट और इंटरनेट की भी अच्छी जानकारी होना जरुरी है। आप ब्लॉग स्मार्टफोन से भी बना सकते हो। इसके लिए स्मार्टफोन अच्छा होना चाईये, ताकि सारे काम करने में कोई दिक्कत न हो।


⏩ 5) ब्लॉगिंग (Blogging) कैसे करें :-



ब्लॉग बनाना और ब्लॉगिंग में अपना कैरियर (Career) खोजना हर किसी के लिए एक अच्छा रास्ता है, लेकिन इसके लिए आपको ब्लॉगिंग अच्छे से आना बहुत जरुरी होता है।

बिना ब्लॉग और ब्लॉगिंग की जानकारी के आप कुछ नही कर सकते। ब्लॉगिंग करने के लिए आपको बहुत कुछ सिखने की जरूरत है।


:- जानते हैं की ब्लॉगिंग कैसे करें :-

यह कुछ बातें हैं जो आपको ब्लॉगिंग करने के लिए जानना बहुत जरुरी हैं -



1 :- अपना ब्लॉग अच्छे से सेटअप (Setup) करें :-


ब्लॉग बनाने के बाद अपने ब्लॉग को अच्छे से सेटअप करना बहुत जरुरी होता है। यह ब्लॉग और ब्लॉग्गिंग के मुख्य पार्ट में से एक होता है।

अपना ब्लॉग बनाएं व उसको अच्छी तरह से डिज़ाइन (Design)करे। अपने ब्लॉग के लिए कोई अच्छा सा टेम्पलेट (Templet) यूज़ करें और उसको पूरी तरह से सेट करें।

इसके अलावा अपने ब्लॉग में जरुरी विडगेट्स (Widgets) को ऐड करे और अपने ब्लॉग को अच्छा सा लुक (Look) दें।



2 :- डोमेन नाम (Domain Name) और होस्टिंग (Hosting) लें:-


अपना खुद का डोमेन नाम और होस्टिंग लें। इसके बिना ब्लॉगिंग में कामयाब होना मुश्किल है। 

डोमेन नाम आपके ब्लॉग के सेटअप के लिए जरूरी है व इससे आपका ब्लॉग सर्च में प्रोफेशनल लगता है , और होस्टिंग से आप अपने ब्लॉग को मन चाहा लुक दे सकते हैं और अपने पसंद के प्लगिन्स (Plugins) जोड़ सकते हैं।

अगर आप डोमेन नाम लेना चाहते है तो

* godaddy.com व

* BigRock.com सबसे बेस्ट वेबसाइट हैं

ओर अगर होस्टिंग लेना चाहते हैं तो

* Hostgator.com व

* Godaddy.com सबसे बेस्ट वेबसाइट्स रहेंगी।



3 :- रोजाना नई पोस्ट्स (Posts) करें :-


पोस्ट्स करना ब्लॉगिंग का एक मैन (main) पार्ट है। पोस्ट करने के बिना न तो ब्लॉग कामयाब हो सकता है और न ब्लॉगिंग हो सकती है। अगर आप अपने ब्लॉग को प्रसिद्द करना चाहते हैं, और ब्लॉगिंग में कामयाब होना चाहते है तो रोजाना पोस्ट करे। यह जरुरी होता है।



4 :- अपना ब्लॉग टॉपिक चुनें :- 


ब्लॉगिंग स्टार्ट करने व कोई भी पोस्ट करने से पहले आपको अपने ब्लॉग का टॉपिक चुनना होगा।

ब्लॉग बनाने से पहले अपने ब्लॉग के लिए कोई टॉपिक सेलेक्ट करे की आप कौनसे टॉपिक पर ब्लॉगिंग करना चाहते है वे उसी टॉपिक पर ब्लॉगिंग करें और पोस्ट लिखें।

हमेशा ब्लॉग उसी टॉपिक पर बनाएं, जिसपर आप सबसे ज्यादा जानते हैं, जैसे :- ब्लॉगिंग, टेक्नोलॉजी, हैल्थ etc.



5 :- ब्लॉग को सर्च इंजन (Search Engine) में जोड़ें :-


ब्लॉग को सर्च इंजन से जोड़ना बहुत जरुरी होता है, अगर ब्लॉग को सर्च इंजन में ऐड किये बिना ब्लॉग गूगल सर्च (Google Search) में नही आएगा और आपको ज्यादा ट्रैफिक (Traffic) नही मिलेगा।

इसलिए ब्लॉग को गूगल सर्च में लाने के लिए ब्लॉग को गूगल सर्च कंसोल (Google search console) में जोड़ें। यह ब्लॉगिंग का एक पार्ट ही माना जाएगा। ऐसा करने से आपको उचित ट्रैफिक मिलेगा।



6 :- एनालिटिक्स (Analytics) से जोड़ें :- 



ब्लॉग को गूगल एनालिटिक्स के साथ जोड़ना ब्लॉग और ब्लॉगिंग का एक जरुरी हिस्सा है। यह ब्लॉगिंग का पार्ट ही होता है ।

एनालिटिक्स आपके ब्लॉग का सारा डाटा, जैसे:- विज़िटर्स, पेज व्यूज, ब्लॉग पर विज़िटर्स कैसे और कहा से आये जेसे आपतक पहुँचाता है। इसलिए ब्लॉग का पूरा स्टेटस जानने के लिए ब्लॉग को गूगल एनालिटिक्स के साथ जोड़ना जरुरी है।


⏩ 6) ब्लॉगिंग के फ़ायदे :-


ब्लॉगिंग करने के आपके लिए बहुत सारे फायदे हो सकते हैं। जानते हैं ब्लॉगिंग करने के कुछ फायदे :- 



1 :- ब्लॉगिंग करने से आपकी राइटिंग स्किल्स (Writing Skils) मजबूत होगी, आप लिखना सीखेगें और आपका अपनी भाषा पर सुधार होता है।


2 :- ब्लॉगिंग या ब्लॉग आपको फेमस (Famous) कर सकता है। आप इसके जरिये दुनिया में अपनी अलग पहचान बना सकते है, और एक ब्लॉगर के रूप में प्रसिद्ध हो सकते हैं।


3 :- ब्लॉगिंग करने से आपकी टेक्निकल जानकारी भी बढ़ेगी, आप कोडिंग (Coding) सीखेगें और इंटरनेट की जानकारी भी बढ़ेगी।


4 :- ब्लॉगिंग से आपका सबसे अच्छा फायदा है की आप ब्लॉग से पैसे भी काम सकते हो। एक बार आपका ब्लॉग प्रसिद्ध हो जाये तो आप इस से अच्छे पैसे काम सकते है। गूगल एडसेंस (Google Adsence) इस काम मे आपकी मदद करेगा।

ज्यादातर ब्लॉगर्स का मुख्य लक्ष्य ब्लॉग और ब्लॉग्गिंग से सिर्फ पैसे कामना ही होता है, और हर कोई इस काम में कामयाब नही हो सकता।

:- इसलिए, अगर आप ब्लॉगिंग में कामयाब होना चाहते हैं, तो आपको धैर्य से काम लेना होगा और रेगुलर ब्लॉगर बनना होगा व ब्लॉगिंग करनी होगी।

आपको यह पोस्ट कैसी लगी मुझे जरूर बताएं और अगर आपका ब्लॉगिंग से संबन्धित कोई भी सवाल हो तो मुझे कमेंट (Comment) व पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर करे।




पोस्ट पढ़ने व हमारी वेबसाइट पर आने के लिए आपका धन्यवाद... ।

No comments:

Post a Comment

Leave A Massage

Join Our Newsletter

Get All The Latest Updates Delivered Straight Into Your Inbox For Free!

We Respect Your Privacy |